Received this text message from my friend Shrey Taneja with some more lines added by me .




चल आज  दारू पीते हैं ...
समय से चुरा कर कुछ वक्त,
चल ज़िन्दगी जीते है ,
चल आज  दारू पीते हैं. ..


वो  सपनो की चादार जो फट गयी है,
नशे में ही सही,
आज उसको सीते हैं. ..
चल आज दारू पीते हैं...

क्या मिल पाया जीवन के इस सफ़र में अब तक,
जो भी कोई मिला, बेवफा ही मिला,
उन बेवफाओं को  भुलाने के लिए ही सही 
चल आज दारू पीते हैं...


उसको बता दो की अब और इंतज़ार नहीं है उसका 
उसके इंतज़ार में न जाने कितनी रातें बीता दी ..
उन रातों को भुलाने के लिए ही सही 
चल आज दारू पीते हैं... 


आ गयी कॉलेज की याद,
माहोल बनाते है , कुछ यारो को बुलाते हैं 
Cigarette  का छाल्ला बनाते है 
ज़िन्दगी को वापिस वही ले जाते हैं 
चल आज दारु पीते हैं 


बहूत कुछ उम्मीदें थी ज़िन्दगी से 
जो पूरी नहीं हो पाई,
उन उम्मीदों को भुलाने के लिए ही सही 
चल आज दारू पीते हैं... 

ज़िन्दगी में जो मुकाम हासिल करने थे,
शराब के नशे में ही सही, आज उन्हें जीते हैं...
चल आज दारू पीते हैं...






 



Note:- This post is about drinking alcohol, it doesn't means that I drink.
Warning:- Drinking is injurious to health.