आईने जैसी ही  कैफियत है मेरी
मेरे भी दिल में कोई राज़ नहीं
-- जयेश कोठारी